टमाटर के फायदे/Tomato Benefits in hindi

टमाटर का उपयोग सब्जी के रूप में अधिक किया जाता है लेकिन अपने पोस्टिक गुणों के कारण अब टमाटरो की गणना फलों में की जाने  लगी है विशेषज्ञों के अनुसार टमाटर में सेव और संतरे से भी अधिक पौष्टिक गुणकारी तत्व होते हैं टमाटर को सलाद के रूप में सेवन करने से अधिक लाभ होता है क्योंकि पकने से टमाटर के कुछ विटामिन नष्ट हो जाते हैं आधुनिक परिवेश में टमाटर का सोश बनाकर बहुत इस्तेमाल किया किया जाता था | टमाटर का सूप बनाकर पीने से शरीर को बहुत शक्ति मिलती है और पाचन क्रिया तीव्र होती है बच्चे टमाटर का  सैंडविच बना कर खाना पसंद करते हैं टमाटर में जलवायु के वातावरण से अधिक मात्रा में होते हैं वर्ष में दो बार टमाटर के पौधों पर फलों की उत्पत्ति होती है इसके पौधे 3-4 फुट ऊंचे होते हैं इन पौधों पर हरे रंग के छोटे-छोटे टमाटर लगते हैं जो पकने पर लाल रंग के होते हैं टमाटर, पुदीना ,हरा धनिया ,व दूसरे मसाले मिलाकर टमाटर की स्वादिष्ट चटनी बनाई जाती है इस चटनी के सेवन से अरुचि  नष्ट होती है और पाचन क्रिया के होने से भूख अधिक लगती है|
टमाटर का सलाद के रूप में सेवन करने से रक्त और के अनेक विकार नष्ट होते हैं और रक्त की तेजी से वृद्धि होने के कारण रक्ताल्पता रोग नष्ट होता है गर्भावस्था में स्त्रियों को टमाटर से पौष्टिक शक्ति मिलती है टमाटर का रस शरीर में शक्ति विकसित करने के साथ शारीरिक सौंदर्य को विकसित करता है टमाटर में विटामिन सी अधिक मात्रा में होने से स्कर्वी रोग में बहुत लाभ पहुंचाता है प्रतिदिन टमाटर का रस पीने से त्वचा के रोग नष्ट होते हैं शरीर में सूजन आमवात अमृत संधि शूल और शीतपित्त छपाकी की विकृति से पीड़ित स्त्री पुरुषों को टमाटर का सेवन नहीं करना चाहिए पथरी होने पर टमाटर का सेवन हानि पहुंचाता है अतिसार में टमाटर से परहेज रखना चाहिए

गुणकारी औषधीय उपयोग

1. टमाटर के सूप वर्ष में काली मिर्च का चूर्ण और सेंधा नमक मिलाकर प्रतिदिन सेवन करने से शारीरिक सौंदर्य विकसित होता है और शरीर में स्फूर्ति आती है |

2.आंखों के नीचे काले दाग बन जाने पर टमाटर गाजर का रस मिलाकर धीरे-धीरे उंगलियों से मिलने से त्वचा में बहुत निखार आता है और काले चकते तेजी से नष्ट होते हैं |

3.टमाटर के रस में नींबू का रस और ग्लिसरीन मिलाकर चेहरे पर मलने से त्वचा की सुकता नष्ट होती है और त्वचा कोमल और स्निध बनती है |

4.टमाटर के 50 ग्राम रस में मधु और जल मिलाकर दिन में दो बार पीने से नाक से स्त्राव की विकृति नष्ट होती है |

5.टमाटर का रस सेवन करने से गर्भवती स्त्री को शारीरिक शक्ति मिलती है और मानसिक तनाव कम होता है|

6.टमाटर के 100 ग्राम रस में काली मिर्च और सेंधा नमक मिलाकर बच्चों को पिलाने से आत्र कृमि नष्ट होती है |

7.रक्ताल्पता के रोगी को प्रतिदिन सुबह-शाम टमाटर का रस अवश्य सेवन कराना चाहिए टमाटर के रस से रक्त की विधि अधिक होती है|

8.टमाटर का रस प्रतिदिन सुबह-शाम पीने से रतौंधी रोग शीघ्रता से नष्ट होता है टमाटर के रस में मधु और जल मिलाकर कुछ सप्ताह तक निरंतर सेवन करने से रक्त पति की विकृत नष्ट होती है |

9.टमाटर के रस में सेंधा नमक और सोंठ का चूर्ण मिलाकर खाने से मंदाग्नि की विकृत नष्ट होती है |

10.टमाटर के रस में अदरक और नींबू का रस मिलाकर थोड़ा-सा सेंधा नमक डालकर पीने से अरुचि की विकृत नष्ट होती है अधिक भूख लगती है और पाचन क्रिया भी तीव्र होती है |

11.टमाटर के रस में काली मिर्च और इलायची के दानों का चूर्ण मिलाकर सेवन करने से नष्ट होती है|

12.गर्भावस्था में  प्रायः पोष्टिक आहार नहीं ले पाने के कारण स्त्रियां शारीरिक रूप से कमजोर हो जाती हैं ऐसी स्थिति में टमाटर का रस दिन में दो तीन बार सेवन करने से शारीरिक शक्ति विकसित होती है|

13.गर्भावस्था में लौह तत्व के अभाव की पूर्ति होती है क्युकि टमाटरसे प्राकिर्तिक आयरन मिलता है जिसका जिसका पाचन भी सफलता से होता है |

14.टमाटर के रस में थोड़ा सा नारियल का तेल मिलाकर मालिश करने के स्नान करने से खुजली नष्ट होती है हल्के गर्म जल से स्नान करना चाहिए|

15.टमाटर खाने से मुंह के छाले नष्ट होते हैं टमाटर कोष्ठबंधकता को नष्ट कर देता है और मुंह के छाले अपने आप  ही नष्ट हो जाते हैं|

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *