मजबूत दांत बनाने के उपचार : Majbut Dant Bnane Ke Upchar

भोजन को सही ढंग से चबाने के लिए मजबूर दांतो का होना बेहद जरूरी है। परंतु इस हेतु सिर्फ ब्रश करना ही काफी नहीं होता। दांतो की मजबूती के लिए उन्हें उपयुक्त पोषण व देखभाल की आवश्यकता होती है।

उपचार

मूंगफली : मूंगफली भली प्रकार चबाकर खाने से दांतों व मसूड़ों को शक्ति मिलती है परंतु यह आवश्यक है कि मूंगफली खाने से के बाद कुल्ला अवश्य किया जाए।

फालसा :  फालसा विटामिन सी से भरपूर फल है। इसे खाने से दांतों और मसूड़ों को मजबूती मिलते हैं।

जामुन : जामुन की छाल को जलाकर अथवा पीसकर चूर्ण बना लें। इस चूर्ण मे सेंधा नमक व कालीमिर्च मिलाकर मंजन करें, दांत मजबूत हो जाएंगे।

गाजर : 70 ग्राम गाजर का रस प्रतिदिन पीने से दांतों को मजबूती मिलती है।

आम : आम के ताजे पत्ते खूब चबाएं। चबाने के पश्चात पत्तों को थूूकते जाएं। निरंतर प्रयोग करने से दांत हिलना बंद हो जाते है।

आडू : आडू खाने से दांत मसूड़े मजबूत होते हैं।

अनार : अनार के जो फूल टूट कर गिर जाते हैं उन्हें छांव में सुखाकर पीस छानकर शीशी में भर लें। इस चूर्ण से नियमित मंजन करने से दांत वज्र के समान मजबूत हो जाएंगे।

नीबू : नीबू विटामिन सी और क्षार का स्रोत होने के कारण दंत चिकित्सा में काफी प्रयोग में लिया जाता है। दांतो की मजबूती के लिए नींबू रस में साधारण नमक व कुछ मात्रा में सरसों का तेल मिला लें फिर इसे दांतों पर मलें। इसके मलने से हिलते दांत भी दृढ़ता से जम जाएंगे।

अंगूर : कुछ सप्ताह तक अंगूर के सेवन से दांत मजबूत हो जाते हैं।

सेव : सेव को काटकर चबा चबाकर खाएं। इसमें विधमान क्षार दांतों कों मजबूती प्रदान करेंगे।

बादाम : बादाम के छिलकों को जलाकर सेंंधा नमक मिलाकर मंजन करें तो हिलते हुए दांत भी जम जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.