लिसोड़ा के फायदे-lisodaa ke fayde-in hindi

लिसोड़ा सारे भारत में पैदा होता है ।इसकी छाल और फल को उपयोग में लिया जाता है।लिसोड़े का बहुत बड़ा वृक्ष होता है। यानी इसका प्रयोग किसी भी रूप से किया जाता है। लिसोड़े का वृक्ष 40 फुट ऊंचा होता है।

लिसोड़े के औषधीय उपयोग निम्न है।

1. लिसोड़े के जड़ को फल का शरबत पीने से खांसी में आराम मिलता है।

2. लिसोड़े के कोमल पत्ते गर्म करके रोग की दशानुसार कुछ दिनों तक कंठ पर बांधने ठीक हो जाता है।

3. पागल कुत्ता काटने पर रोगी को ली लिसोड़े के पत्ते 10 ग्राम में 15 से 20 काली मिर्च जल में पीसकर और छानकर पिलाएं रोग नष्ट हो जाएगा।

4. धातु रोग पके लिसोड़े के फल का शरबत पीने से आराम मिलता है।

5. दांत दर्द में लिसोड़ा का छाल का काढ़ा बनाकर उससे कुल्ले करने से दांत का दर्द में आराम मिलता है।

6. खुजली होने पर लिसोड़े की छाल को पानी में घिसकर या पीसकर लेप करने से खुजली मिटती है।

7. जुखाम खांसी होने पर लिसोड़े की छाल को दो कप पानी में उबालकर आधा कब रह जाए तब उतारकर छानकर सुबह-शाम पीने से सर्दी एवं खांसी ठीक होती है।

8. अतिसार लिसोड़े की छाल को पानी में घिसकर पिलाने से फायदा होता है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *