जुओं से छुटकारा पाने के कारण लक्षण और उपचार : Juo Se Chhutkara Pane Ke Karan Lakshan Aur Upchar

जुओं से छुटकारा पाने के कारण व लक्षण

बालों को गंदा रखने तथा उनकी पर्याप्त सफाई नहीं करने से बालों में जुएं पड़ जाती हैं। कई बार ज्यादा समय तक बालों को गीला रखने से भी जुएं उत्पन्न हो जाती हैं। जुएं खोपड़ी की ऊपरी त्वचा व रक्त का चूषण कर पोषण प्राप्त करती हैं जिससे सिर में तेज खुजली होती है। सिर में जुएं किसी भी व्यक्ति के पड़ सकती हैं किंतु इनको समाप्त करना काफी मुश्किल कार्य होता है क्योंकि इनकी वंश वृद्धि तेजी से होती है।

उपचार

नीबू : जुओं का नाश करने के लिए स्नान से पहले नींबू के रस की सिर में मालिश करें।

चुकंदर : चुकंदर के पत्तों को पानी में उबालकर सिर धोने से जुएं मर जाती हैं।

सीताफल : 12 सीताफल के बीज व छह काली मिर्च पानी में पीसकर घी में मिलाकर रात को सिर में लगाएं। प्रातः सिर धो लें। जुएं खत्म हो जाएंंगी।

अनार : जुओं के लिए अनार के छिलके भी अच्छा कार्य करते हैं। अनार के छिलकों का बारीक चूर्ण कर लें और जार में भरकर रख दें। जब भी बच्चों या बड़ों के बालों में जुएं पड़ जाएंं तो अनार चूर्ण सिर पर मल दें या फिर इसे पानी में घोलकर सिर पर लेप कर देंं। जुएं मर जाएंगे।

शरीफा : शरीफे के बीजों का चूर्ण भी जुओं को मारने का अचूक नुस्खा है। इसे भी अनार चूर्ण की ही भांति उपयोग करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.