चेचक दाग के कारण, लक्षण और उपचार : Checak Dag Ke Karan Lakshan Aur Upchar

चेचक दाग के कारण व लक्षण

चेचक, शीतला व मसूरिया निकलने पर सारे शरीर में छोटी-छोटी फुंसियां हो जाती हैं। जब बीमारी खत्म हो जाती है तो फुंसियां तो समाप्त हो जाती हैं पर उनके दाग बचे रह जाते हैं जो अच्छे खासे चेहरे को बदसूरत बना देते हैं।

उपचार

नारंगी : चेचक के ताजा दागों को मिटाने के लिए नारंगी के छिलके अचूक औषधि है। नारंगी के छिलकों को सादा पानी में मिलाकर महीन पीसकर चेहरे पर लेप करें, सादा पानी की जगह गुलाबजल भी मिलाया जा सकता है। कुछ दिनों तक अनवरत इसका लेप करने से चेचक के दाग दूर हो जाते हैं तथा चेहरा निखर जाता है।

नारियल : नियमित रूप से दिन में 5 बार नारियल का पानी चेचक के दागों पर लगाने से चेहरा साफ हो जाता है।

बादाम : जिन व्यक्तियों के चेहरे पर चेचक के निशान हो उन्हें बादाम घिसकर पिलाने और पीसे हुए बादाम को मरहम के रूप में गुलाबजल मिलाकर दाग वाले स्थान पर लगाने से कुछ ही दिनों में चेचक के निशान समाप्त हो जाते हैं।

नींबू : खीरे का रस, अरहर की दाल, दूध, गुलाबजल सभी की एक एक चम्मच मात्रा तथा एक चुटकी हल्दी, एक नींबू का रस, 5-6 बूंद  ग्लसरीन लें। अरहर की दाल पानी में भिगोकर पीस लें। तथा शेष सभी चीजें मिलाकर गाढ़ा गाढ़ा लेप चेहरे पर लगाएं। जब यह लेख सूखने लगे तो हल्के गर्म पानी से धो लें  धीरे-धीरे चेचक के दाग समाप्त हो जाएंगे।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.