चक्कर आने के कारण, लक्षण और उपचार : Cakkar Ane Ke Karan Lakshan Aur Upchar

चक्कर आने के कारण व लक्षण

शरीर में पोषण की कमी से उत्पन्न शारीरिक कमजोरी के फल स्वरुप चक्कर आने की शिकायत हो जाती है। चक्कर आकस्मिक रूप से कभी भी आ सकते हैं, परंतु जब ये आते हैं तो ऐसा लगता है जैसे आसपास का सारा वातावरण को घूम रहा हो। कई बार चक्कर आने के साथ जी मिचलाता हैं। उल्टियां होने की संभावना रहती हैं।

उपचार

नीबू : अक्सर चक्कर आने पर दौरा पड़ता हो तो एक कप गर्म पानी में एक नींबू निचोड़ कर पीने से सिर चकराने की समस्या दूर हो जाती है।

मुनक्का : लगभग 20 ग्राम मुनक्का घी में सेक ले। इसके पश्चात इस में सेंधा नमक डालकर खाएं। चक्कर आना बंद हो जाएगें।

आंवला : गर्मीयों के मौसम में चक्कर आना एक सामान्य बात है। इसके निदान के लिए आंवले का शरबत पीएं।                      आंवले के रस को पानी में मिलाकर सुबह-शाम पीने से भी इस बीमारी में चमत्कारी असर होता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.