भिन्डी के फायदे -bhindi ke fayde in hindi

भिंडी वर्षा ऋतु के एक पोस्टिक सब्जी है। भिंडी एक देर से हजम होने वाली सब्जी है।जिसे हर आदमी शोक से खाता है।क्योंकि यह एक पौधे का फल है। इसलिए दवा के तौर पर भी इस्तेमाल करते हैं। भिंडी की सब्जी में महत्वपूर्ण स्थान है। भिंडी का पौधा छोटा 2 से 3 फुट की ऊंचाई का होता है। भिंडी का पौधा काफी ऊंचा होता है।बहुत से लोग मध्य ऊंचाई का पौधा लगाते हैं।

भिन्डी के गुणकारी फ़ायदे 

1. कच्ची भिंडी या उसकी जड़ का चूर्ण 4 से 5 ग्राम ताजा जल के साथ प्रातः खाने से प्रदर तथा पिनतज ठीक हो जाता है।

2. पेचिश में भिंडी की सब्जी का सेवन करने से लाभ होता है।

3. दो से तीन भिंडी को कच्चे फलों में इससे आधी मात्रा में मिश्री मिलाकर पीस लें।और इस मिश्रण को दूध के साथ सेवन करने से कुछ सप्ताह तक नियमित रूप से प्रदर रोग में लाभ होता है।

4. आंतों की सूजन भिंडी खाने से आंतों की जलन और खराश दूर हो जाती है।

5. धातु का जाना गाय के दूध का दही जमा कर उसकी छाछ बना लें। फिर प्रातः भिंडी के दो से तीन फूल पीसकर इससे ताजा छाछ में मिलाकर सेवन करने से धातु का जाना बंद हो जाता है।

6. दुर्बलता दूर करने के लिए प्रातः दिन भिंडी खाने से दुर्बलता शरीर में जान आ जाती है।तथा मर्दाना शक्ति का विकास होता है।इससे कमजोर व्यक्तियों का शरीर पुष्ट और मोटा होने लगता है।

7. धातु विकार भिंडी की जड़ को दूध में उठकर छानकर उसमें घी और खाड मिलाकर पीने से लाभ होता है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *