बिस्तर पर पेशाब करने के घरेलु नुक्से /Bed wetting in hindi

चिकित्सा विशेषज्ञों के अनुसार स्नायु विकृत के कारण बच्चे रात में सोते समय बिस्तर पर मूत्र करते हैं पेट में कीड़े होने पर भी बच्चे सोते समय बिस्तर गीला कर देते हैं स्नायु की विकृत में शरीर में अधिक उत्तेजना होती है ऐसे में सोते हुए बच्चे मूत्र पर नियंत्रण नहीं कर पाते और मूत्र कर देते हैं मूत्र नली में विकृति के कारण भी सोते हुए बच्चे मूत्र त्याग कर देते हैं रात में सोते समय बच्चे की मूत्र त्याग की विकृति नष्ट करने के लिए कोई भी औषधि देने से पहले माता-पिता को बच्चे के भोजन की कुछ आदित्य सुधारने आवश्यक है बच्चे को उनके सोने से एक से 2 घंटे पहले भोजन करा देना चाहिए बच्चे के सो जाने पर उसे जगह कर कुछ खाने पीने को नहीं देना चाहिए बिस्तर पर जाने से पहले एक बार बच्चे को मूत्र करा देना चाहिए।

गुणकारी घरेलू नुक्से

1. बच्चे को तिल व गुड़ मिलाकर खिलाने से बिस्तर पर मूत्र त्याग की विकृत नेटवर्क होती है तिल व गुड़ के साथ अजवायन का चूर्ण मिलाकर सेवन कराने से अधिक लाभ होता है।

2. आमली को खूब अच्छी तरह कूट पीसकर बारीक चूर्ण बनाकर रखें प्रतिदिन 3 3 ग्राम चोर मधु मिलाकर बच्चे को सुबह-शाम चटाने से बच्चे बिस्तर पर मूत्र करना बंद कर देते हैं।

3. अश्वगंधा और जटा मासी बराबर मात्रा में लेकर जल में देर तक उबालकर काढ़ा बनाएं इस काढ़ा को छानकर बच्चे को तीन से चार दिन पिलाने से मूत्र करने की विकृति नष्ट होती है |

4.आंवला और जीरा 10 – 10 ग्राम मात्रा में लेकर कूट पीसकर चूर्ण बना लें इस चूर्ण में बराबर मात्रा में मिश्री पीसकर मिलाएं प्रतिदिन दो – दो ग्राम चूर्ण जल के साथ सेवन कराने से बच्चे बिस्तर पर पेशाब करना बंद कर देते हैं |

5.जामुन की गुठलियों को छाया में सुखाकर कूट पीसकर बारीक चूर्ण बना लें दो 2 ग्राम चूर्ण दिन में दो बार जल के साथ सेवन कराने से बच्चे बिस्तर पर पेशाब करना बंद कर देते हैं |

6.छुहारा खाने से बच्चे बिस्तर पर पेशाब करना बंद कर देते हैं |

7.राई का चूर्ण एक रत्ती मात्रा में जल के साथ सेवन कराने से बिस्तर पर मूत्र करने की विकृति नष्ट होती है |

8.प्रतिदिन बच्चे को मुनक्का खिलाने से बिस्तर पर मूत्र त्याग की विकृति हमेशा के लिए नष्ट हो जाती हैं |

9.रात्रि को बिस्तर पर पेशाब करने वाले बच्चों को अखरोट खिलाने से मूत्र करने की विकृति नष्ट होती है।

10.कोई बुरा सपना देखने से भी बच्चे बिस्तर पर पेशाब कर देते हैं|

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *