बाल झड़ने के कारण लक्षण और उपचार : Bal Ghanne Ke Karan Lakshan Aur Upchar

बाल झड़ने के कारण व लक्षण

यह एक सामान्य रोग है जो शरीर में पोषक तत्वों की कमी से होता है। जब बालों को उपयुक्त पोषण नहीं मिल पाता तो उनकी जड़ें कमजोर हो जाती हैं और वह असमय ही झड़ने लग जाते हैं। बालों की साज सम्हाल में लापरवाही भी इस रोग का दूसरा सबसे प्रमुख कारण है।।                                   महिलाओं ने बालों के झड़ने की समस्या आम है और इस समस्या के निदान के लिए वो अज्ञानता वश महंगे में कास्मेटिक्स व हेयर केयर उत्पादों में काफी पैसा खर्च कर देती हैं। किंतु यदि आप गौर करेंगे तो पाएंगे कि बालों के कुशल रखरखाव व उनको मजबूती देने के अनेकानेक प्राकृतिक साधन आपके पास मौजूद हैं, जिनमें फल महत्वपूर्ण है।

उपचार

नींबू : स्नान से पहले नींबू के रस से सिर मे मालिश करने से बालों का झड़ना दूर हो जाता है।                                                  कागजी नींबू के रस में दोगुना नारियल का तेल मिलाकर उंगलियों के पोरों से आहिस्ता आहिस्ता बालों की जड़ों में मालिश करने से बाल झड़ने बंद हो जाते हैं।

आंवला : बालों के लिए आंवले को अमृत तुल्य माना जाता है। बाल गिरने की समस्या होने पर सूखे आंवले को रात में भिगो दें। प्रातः इससे सिर धोएं. इससे बालों की जड़े मजबूत होती हैं तथा उन्हें प्राकृतिक पोषण मिलता है।

नारियल : नारियल का तेल सिर में लगाने से बाल गिरना बंद हो जाते हैं इसकी मालिश से बालों की जडे़ मजबूत हो जाती हैं।

आम : आम की गुठली की 10 ग्राम मात्रा लेकर उसे आंवले के रस में मिलाकर खूब महीन पीस लें, फिर बालों पर लगाएं। इससे बाल झड़ना बंद हो जाते हैं।

चुकंदर : चुकंदर के पत्ते मेहंदी के साथ पीसकर लेप करने से बाल गिरना बंद हो जाते हैं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.