आँखों मे दर्द के कारण, लक्षण और उपचार : Ankho Ke Dard Ka Karan Lakshan Aur Upchar

आँखों के दर्द का कारण व लक्षण

ऊपर वर्णित कारणों की वजह से आंखों में दर्द उत्पन्न हो जाता है जिसे इस प्रकार उपचारित किया जा सकता है।

उपचार

आंवला – आंवला आंखों के लिए काफी उपयोगी फल है।आंखें दुखने पर आंवला, हर्र व बहेड़ा ( त्रिफला ) का चूर्ण बनाकर रात को मिट्टी के बर्तन में भिगो देंं। प्रातः छानकर इस पानी से आंखें धोने से आंखें निरोग रहती हैं व आंखों के समस्त दर्दों से मुक्ति मिल जाती है।

गाजर – गाजर का छिलका खूब महीन पीसकर आंखों में लगाने से आंखो का दुखना बंद हो जाता है।

बेल – बेल की पत्तियां पीसकर रस निकालकर बारीक कपड़े में छानकर एक दो बूंद आंखों में टपका देने से आंखो का दुखना बंद हो जाता है। बेल की पत्ती में औषधीय तत्व होता है, जो आंखों की चुभन, पीड़ा व शूल इत्यादि को ठीक कर देता है।

नारियल – नारियल की 25 ग्राम सूखी गिरी और 60 ग्राम शक्कर मिलाकर प्रतिदिन खाने से आंखों में दर्द नहीं होता।

बदाम – रात को बादाम को भिगोकर, सुबह पीसकर खाएं, साथ ही इसके ऊपर एक गिलास गाय का दूध पी ले। आंखों में किसी भी प्रकार का दर्द हो, ठीक हो जाएगा।

आंवले – आंवले का रस सुबह-शाम पानी में मिलाकर पीने से आंखों का दर्द नहीं होता। यदि इस रस को नियमित पीया जाए तो अन्य नेत्र विकारों में भी लाभ होता है।

आम – आम के प्रयोग से आंखों का दर्द समाप्त हो जाता है।

अनार – अनार के पत्ते पीसकर टिकिया बना ले, रात को सोते समय आंखों पर बांधने से लाभ मिलेगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.